Tuesday, August 25, 2009

Seedhi Baat/ Aajtak, August 23, 2009

In Seedhi Baat, expelled BJP leader Jaswant Singh talks about the actual reasons leading to to his expulsion from the party, the role of Nehru, Patel and Jinnah in the Partition of India, his relations with Vajpayee, Advani and the RSS, his biggest political regret and his future plans.

विचारों पर पाबंदी दुर्भाग्‍यपूर्ण: जसवंत सिंह

बीजेपी से निकाले गए वरिष्‍ठ नेता जसवंत सिंह ने कहा है कि विचारों पर पाबंदी लगाया जाना देश और राजनीति के लिए दुर्भाग्‍यपूर्ण है. आज तक के कार्यक्रम 'सीधी बात' के दौरान उन्‍होंने ये बातें कहीं.


1 comment:

Raviratlami said...

विचारों पर प्रतिबंध तो नहीं लगाया गया है अलबत्ता जिस संगठन में हैं, उनके विचारों के विपरीत बात कहने पर कार्यवाही की गई है.
इस मामले में कांग्रेस हो या बीजेपी - सभी एक थैले के चट्टे बट्टे हैं. सार्थक बहस कोई करना ही नहीं चाहता!